You are currently viewing What is Blockchain Mining in Hindi Fully Explained 2.0: Revolutionized
Blockchain mining in hindi

What is Blockchain Mining in Hindi Fully Explained 2.0: Revolutionized

आपने बहुत सुना होगा (Mining)माइनिंग के बारे में, नहीं, नहीं, वो किसी मिनरल्स या पहाड़ों वाली माइनिंग(Mining) नहीं, क्रिप्टोकरेंसी के क्षेत्र में माइनिंग(Bitcoin Mining)। बहुत सारे आर्टिकल, ब्लॉग्स और यूट्यूब वीडियोज़ देखे होंगे आपने कि माइनिंग करो, पैसे कमाओ। माइनिंग से लाखपति या फिर करोड़पति बन जाओ… लेकिन मैं आपको इस ब्लॉग में ऐसा कुछ नहीं बताने वाला जिससे आप माइनिंग करके लाखपति या करोड़पति बन जाओ, मैं बस आपको माइनिंग के बारे में बताऊंगा, यह काम कैसे करता है, और इसकी जरूरत क्यों पड़ती है, और लोग कितना और कैसे पैसे कमाते हैं।

Table of Contents

Blockchain Mining क्या है ?

बिटकॉइन लेनदेन को आम तौर पर Decentralised प्रणालियों में सत्यापित(Verify) किया जाता है जिसमें लोग इसे सत्यापित(Verify) करने के लिए कंप्यूटिंग संसाधनों का योगदान करते हैं। लेन-देन को सत्यापित(Verify) करने की इस प्रक्रिया(Process) को खनन(Mining) कहा जाता है।

Blockchain Mining का उपयोग बिटकॉइन लेनदेन को सुरक्षित और Verify करने के लिए किया जाता है। Mining में blockchain Miner शामिल हैं एक पीयर-टू-पीयर कंप्यूटर प्रक्रिया(A peer-to-peer computer process,), जो बिटकॉइन लेनदेन डेटा को पिछले लेनदेन के बिटकॉइन के Global public Ledger में जोड़ते हैं। बहीखाता में, ब्लॉकचैन खनिकों द्वारा ब्लॉक सुरक्षित किए जाते हैं और एक दूसरे से एक श्रृंखला बनाकर जुड़े होते हैं।

इसे संभवतः खनन(Mining) के रूप में बताया किया जाता है क्योंकि यह सोने जैसी वस्तुओं के खनन के समान है- सोने के खनन के लिए बहुत प्रयास और संसाधनों की आवश्यकता होती है, लेकिन तब सोने की सीमित आपूर्ति होती है; इसलिए, हर साल खनन किए जाने वाले सोने की मात्रा लगभग समान रहती है। उसी तरह, बिटकॉइन माइनिंग की प्रक्रिया में बहुत सारी कंप्यूटिंग शक्ति की खपत होती है। खनन से उत्पन्न बिटकॉइन की संख्या समय के साथ घटती जाती है। सातोशी नाकामोटो के शब्दों में, बिटकॉइन की केवल सीमित आपूर्ति Limited Supply है। केवल 21 मिलियन बिटकॉइन बनाए जाएंगे। (Only 21 million bitcoins will be created through Mining)

इसके मूल में, ‘Blockchain Mining’ शब्द का उपयोग बिटकॉइन ब्लॉकचेन में लेनदेन रिकॉर्ड जोड़ने की प्रक्रिया को बताने के लिए किया जाता है। ब्लॉकचैन में ब्लॉक जोड़ने की यह प्रक्रिया है कि लेनदेन कैसे होते हैं और बिटकॉइन पर पैसा सुरक्षित रूप से कैसे चलता है। ब्लॉकचेन माइनिंग की यह प्रक्रिया दुनिया भर के लोगों के एक समुदाय द्वारा की जाती है जिसे ‘ब्लॉकचैन माइनर्स’ (Blockchain Miners) कहा जाता है।

ब्लॉकचेन माइनर(Blockchain Miners) बनने के लिए कोई भी आवेदन कर सकता है। ये ब्लॉकचैन खनिक(Blockchain Mining एक विशेष ब्लॉकचैन खनन सॉफ़्टवेयर स्थापित करते हैं और चलाते हैं जो उनके कंप्यूटरों को एक दूसरे के साथ सुरक्षित रूप से संचार करने में सक्षम बनाता है। एक बार जब कोई कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर स्थापित करता है, नेटवर्क से जुड़ता है, और बिटकॉइन खनन शुरू करता है, तो इसे ‘नोड'(Node) कहा जाता है।

साथ में, ये सभी नोड्स एक दूसरे के साथ संवाद(Communicate) करते हैं और ब्लॉकचैन में नए ब्लॉक जोड़ने के लिए लेनदेन की प्रक्रिया करते हैं जिसे आमतौर पर बिटकॉइन नेटवर्क (Bitcoin Network)जाना जाता है । यह बिटकॉइन नेटवर्क दिन भर चलता है। यह बिटकॉइन लेनदेन में लाखों डॉलर के बराबर की प्रक्रिया करता है और 2009 में लॉन्च होने के बाद से इसे कभी भी हैक या डाउनटाइम का अनुभव नहीं किया गया है।

Blockchain Mining के प्रकार

Blockchain Mining की प्रक्रिया बहुत जटिल हो सकती है और एक सामान्य डेस्कटॉप या कंप्यूटर इसे पूरी तरह से नहीं किया जा सकता। इसलिए, Blockchain Mining समझने और काम करने के लिए विशेष हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होती है जो उपयोगकर्ता की सहायता करता है। यह विशेष रूप से कुछ ब्लॉकों के खनन के लिए तैयार किया गया है।”

Blockchain Mining खनन प्रक्रिया तीन श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है:

  1. व्यक्तिगत खनन individual mining –
    जब Blockchain Mining किसी व्यक्ति द्वारा किया जाता है, तो खनिक के रूप में उपयोगकर्ता पंजीकरण आवश्यक है। जैसे ही कोई लेन-देन होता है, ब्लॉकचेन नेटवर्क में सभी एकल उपयोगकर्ताओं(individual miners) को हल करने के लिए एक गणितीय समस्या दी जाती है। इसे हल करने वाले पहले व्यक्ति को पुरस्कृत किया जाता है। एक बार समाधान मिल जाने के बाद, ब्लॉकचेन नेटवर्क के अन्य सभी खनिक डिक्रिप्टेड मूल्य को मान्य करेंगे और फिर इसे ब्लॉकचेन में जोड़ देंगे। इस प्रकार, लेनदेन(Transaction) की पुष्टि(confirmation) होता है।
  1. पूल खनन pool mining
    पूल माइनिंग में, Blockchain Mining में लेन-देन को मंजूरी देने के लिए उपयोगकर्ताओं का एक समूह मिलकर काम करता है। कभी-कभी, ब्लॉक में एन्क्रिप्ट किए गए डेटा की जटिलता उपयोगकर्ता के लिए अकेले एन्कोडेड डेटा को डिक्रिप्ट करना मुश्किल बना देती है। इसलिए, खनिकों का एक समूह इसे हल करने के लिए एक टीम के रूप में काम करता है। परिणाम के सत्यापन के बाद, इनाम को सभी उपयोगकर्ताओं के बीच विभाजित किया जाता है।
  2. बादल खनन cloud mining –
    क्लाउड माइनिंग, Blockchain Mining कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की आवश्यकता को समाप्त कर देता है। यह ब्लॉक निकालने का एक झंझट-मुक्त तरीका है। क्लाउड माइनिंग के साथ, सभी मशीनरी को संभालना, ऑर्डर करने का समय, या मुनाफा बेचना चिंता का विषय नहीं रहता है।

हालांकि यह परेशानी से मुक्त है, लेकिन इसके अपने नुकसान हैं। परिचालन कार्यक्षमता(operational efficiency) बिटकॉइन हैशिंग की सीमाओं के साथ (Limited)सीमित है। Reward Profit कम होने से परिचालन खर्च (Operating cost) बढ़ जाता है।

Blockchain Mining के उपयोग

1. लेन-देन मान्य करना (Transaction Verification)-

Blockchain Mining बिटकॉइन लेनदेन हर दिन बड़े पैमाने पर होता है। क्रिप्टोक्यूरेंसी एक केंद्रीय प्रशासक(Central authority) के बिना कार्य करती है और लेनदेन के साथ असुरक्षा पर्याप्त हो सकती है। तो, ऐसी क्रिप्टोकरेंसी के साथ प्रमाणीकरण का तरीका क्या है? प्रत्येक लेनदेन के साथ, नेटवर्क में ब्लॉकचेन में नए ब्लॉक जोड़े जाते हैं और सत्यापन ब्लॉकचैन खनिकों के खनन परिणामों में निहित है।

2. लेनदेन की पुष्टि (Transaction Confirmation)-

Blockchain Mining लेन-देन प्रामाणिक है या नहीं, इसकी पुष्टि करने के लिए खनिक ब्लॉकचैन खनन प्रक्रिया का काम करते हैं। सभी पुष्टि किए गए लेनदेन को तब ब्लॉकचेन में शामिल किया जाता है।

3. नेटवर्क सुरक्षित करना (Securing Network)-

Blockchain Mining लेन-देन नेटवर्क को सुरक्षित करने के लिए, बिटकॉइन खनिक एक साथ काम करते हैं। जैसे-जैसे अधिक उपयोगकर्ता ब्लॉकचेन का खनन करते हैं, ब्लॉकचेन नेटवर्क सुरक्षा बढ़ जाती है। नेटवर्क सुरक्षा सुनिश्चित करती है कि क्रिप्टोकरेंसी के साथ कोई धोखाधड़ी वाली गतिविधियां नहीं हो रही हैं।

इस तरह, Blockchain Mining एक सुरक्षित और सत्यापित तरीका है जो बिटकॉइन लेन-देन को सुनिश्चित करने के लिए डिजिटल दुनिया में महत्त्वपूर्ण है। यह एक Technology है जो नेटवर्क को सुरक्षित और मजबूत बनाने के लिए साझेदारी की शक्ति पर आधारित है।

Blockchain Mining के पैसे लगाने और कमाने में कई कारक होते हैं। –

सबसे पहले, Blockchain Mining के लिए विशेष तकनीकी हार्डवेयर की आवश्यकता होती है जो पहले में महंगा हो सकता है। यह हार्डवेयर, उच्च प्रदर्शन की CPU, GPU, ASICs, या अन्य विशेष उपकरणों में शामिल हो सकता है जिसके लिए भारी निवेश की आवश्यकता होती है।

What is Blockchain Mining in Hindi Fully Explained 2.0: Revolutionized

Blockchain Mining की लाभकारिता भी मौसम और बाजार पर निर्भर करती है। क्रिप्टोकरेंसी के रेट और माइनिंग की कठिनाई (जिससे नए Cryptocurrency माइन करना मुश्किल हो जाता है) में बदलावों के आधार पर माइनिंग रिटर्न्स अलग अलग होते हैं।

Blockchain Mining एक माइनर के लिए कमाई की संभावना को फैसला करते समय, माइनिंग की कठिनाई, बिजली की लागत, हार्डवेयर की लागत, और क्रिप्टोकरेंसी के मौजूदा मूल्य को विचार करना अहम होता है। इसमें आपको अपने स्थानीय बिजली दर, हार्डवेयर रखरखाव और ठंडाई खर्चों को भी गिनना होगा।

कुछ लोग माइनिंग पूल्स में शामिल होते हैं जो कई माइनर्स को मिलाकर काम करते हैं, जिससे कुल उम्मीदें और लाभ बढ़ सकते हैं। यह भी निर्भर करता है कि आप कितने शक्तिशाली हार्डवेयर का उपयोग कर रहे हैं और आपके पास कितne संसाधन हैं।

संक्षेप में, माइनिंग के निवेश और कमाई की संभावना को समझने के लिए, अद्यतित बाजार अनुसंधान(updated market research) और व्यक्तिगत परिस्थितियों को ध्यान में रखना आवश्यक है।

1. ब्लॉकचेन माइनिंग क्या है?

ब्लॉकचेन माइनिंग एक प्रक्रिया है जिसमें कंप्यूटर सिस्टम्स ब्लॉकचेन प्रोटोकॉल के माध्यम से लेन-देन सत्यापित करते हैं और नये ब्लॉकों को बनाते हैं|

खनन किस तरह से काम करता है?

खनन, गणनात्मक समस्याओं को हल करने और नये ब्लॉकों को बनाने के लिए कंप्यूटरों के समूह द्वारा किया जाता है।

खनन के लिए किस प्रकार के संसाधनों की आवश्यकता होती है?

खनन में उच्च क्षमता वाले कंप्यूटरों, ऊर्जा और गणना शक्ति की आवश्यकता होती है।

ब्लॉकचेन माइनिंग का उपयोग क्यों किया जाता है?

इसका उपयोग लेन-देनों की सुरक्षा और सत्यापन के लिए किया जाता है, जो ब्लॉकचेन नेटवर्क को मजबूत बनाता है।

क्या ब्लॉकचेन माइनिंग सिर्फ बिटकॉइन के लिए होता है?

नहीं, ब्लॉकचेन माइनिंग कई क्रिप्टोकरेंसी के लिए होता है, जो किसी भी ब्लॉकचेन प्रोटोकॉल के साथ जुड़े होते हैं।

व्यक्तिगत खनन और पूल खनन में क्या अंतर है?

व्यक्तिगत खनन में व्यक्ति अकेले खनन करता है, जबकि पूल खनन में कई खनिक मिलकर काम करते हैं।

खनन के लिए कितना समय और श्रम लगता है?

यह खनन की प्रक्रिया, ब्लॉकचेन प्रोटोकॉल और उपयोगिता पर निर्भर करता है, लेकिन कुछ खनन प्रक्रियाएँ अधिक समय लेती हैं।

ब्लॉकचेन माइनिंग का पर्यावरणीय प्रभाव क्या होता है?

खनन ऊर्जा का अधिक सेवन कर सकता है, लेकिन कुछ नवीनतम प्रोटोकॉल्स ऊर्जा खपत को कम करने की कोशिश कर रहे हैं।

ब्लॉकचेन माइनिंग के लिए किस तरह की व्यवस्थाएं होती हैं?

खनन के लिए खनिकों और ब्लॉकचेन नेटवर्क की व्यवस्थाएं विभिन्न क्रिप्टोकरेंसी प्रोटोकॉल्स पर निर्भर करती हैं।

यह भी पढ़े 

इस वेबसाइट Cryptoeducare पर आपको क्रिप्टो मार्किट से नयी – नयी जानकारी प्रदान किया जायेगा, जिससे आप अच्छी तरह से समझ सके.
क्रिप्टोकुरेंसी की पुरी जानकारी और उसका संपूर्ण विश्लेषण
अच्छी तरह देसी भाषा में समझ के लिए वेबसाइट के अलग ब्लॉग को पढ़िए, कुछ काम और गलतिया हो तो कमेंट कर के जरुर बताइये।
ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी से जुड़े सारे साथियो को प्रश्नों का उत्तर आपको सरल और सहज भाषा में देने का भरपुर प्रयास किया जाएगा..
हमसे सोशल मीडिया पर जुड़े के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें | आपका कोई सवाल हो तो आप सोशल मीडिया पर पुछ सकते हैं
FB – https://www.facebook.com/cryptoeducare
Instagram – https://www.instagram.com/crypto_educare/
LinkedIn – https://www.linkedin.com/company/crypto-educare
Twitter – https://twitter.com/crypto_educare
Youtube –https://www.youtube.com/channel/UCB5hrWVmEqALj6GoXXqK-mQ

This Post Has One Comment

  1. LipoSlend Weight loss

    For the past few days I’ve been frequently checking out this amazing website, they have sensational content for subscribers. The site owner has a real talent for engaging readers. I’m impressed and hope they maintain their wonderful efforts!

Leave a Reply